1
Founder-President

Ar. Daulat Ram Malya

1
Senior Vice President

Baba Bharat Ji

1
Secretary

Ravindra Kumar Pulkit

1
Treasurer

Ramawatar Nagarwal

Introduction :

            ज़रूरतमंद ,असहाय व पीड़ित व्यक्तियों के लिए समर्पित समर्पण संस्था एक रजिस्टर्ड सामाजिक संस्था है जिसकी स्थापना नवम्बर, 2009 में की गई ।संस्था में सभी धर्म, जाति, मजहब के व्यक्ति सदस्य है। संस्था के पदाधिकारी सदस्यों का सामाजिक क्षेत्र में एक स्थान व मुकाम है।संस्था की नवगठित कार्यकारिणी मे कुल 27 सक्रिय सदस्य है।

            संस्था के संस्थापक अध्यक्ष आर्किटेक्ट दौलत राम माल्या ए-वन आर्किटेक्ट्स प्रा.लि. के निदेशक है जो जयपुर व राजस्थान के अनेक शहरों में रिहायशी, वाणिज्यिक, संस्थानिक व व्यावसायिक भवनों के नक्शे डिजाइन कर निर्माण कर चुके हैं। श्री माल्या को समाज के लिए किये जा रहे उत्कृष्ट कार्यों के लिए देश विदेश की अनेक संस्थाये अवार्ड देकर सम्मानित कर चुकी है तथा हाल ही मे नेपाल के गांधी पीस फ़ाउन्डेशन ने अन्तराष्ट्रीय पीस एम्बेसडर नियुक्त किया है।read more...

SAMARPAN SANSTHA

Registration Details
Regn. No. - 599/Jaipur/2009-10.
( Under The Rajasthan Societies Registration Act 1958.)

Downlaod Registration Details
Downlaod 12a Certificate
80g Certificate
CURRENT NEWS:

निर्धन बच्चों को निजी स्कूलों में आरटीई के तहत प्रवेश दिलाने के लिए “ समर्पण शिक्षा सहयोगी” हेतु आवेदन आमन्त्रित .... समर्पण संस्था द्वारा निर्धन बच्चों को प्राइवेट स्कूलों मे आरटीई के तहत प्रवेश दिलाने के लिए प्रत्येक वार्ड/तहसील से एक “ समर्पण शिक्षा सहयोगी “ नियुक्त किया जायेगा । इसके लिए निर्धारित प्रपत्र में आवेदन आमन्त्रित किये गये है । संस्था द्वारा चयनित “समर्पण शिक्षा सहयोगी“ को प्रति प्रवेश ₹100 मानदेय दिया जायेगा । समर्पण शिक्षा सहयोगी अपने वार्ड मे निर्धन परिवारो को ढूँढ कर उनके बच्चों के फ़ॉर्म ऑनलाइन भरकर निजी स्कूलों मे नि:शुल्क प्रवेश दिलवाने का कार्य करेंगे । इच्छुक व्यक्ति संस्था के निर्धारित आवेदन पत्र को भरकर संस्थापक अध्यक्ष के मोबाइल नम्बर 9414336431 पर वाट्सअप या malyaaone@gmail.com पर मेल करें ।चयन वरीयता के आधार पर किया जायेगा । अन्तिम तिथि 15 जून, 2020 है । ................................ राजस्थान आरटीई निःशुल्क प्रवेश 2020-2021 प्रदेश के सभी निजी शिक्षण संस्थानों में 25% सीटों पर निर्धन बच्चों को निशुल्क प्रवेश दिया जाता है इन बच्चों की फीस राज्य सरकार वहन करती है यह प्रवेश आरटीई यानी राइट टू एजुकेशन अधिकार के तहत दिया जाता है किसी बच्चे के परिवार की इनकम ढाई लाख से कम है तो वह निजी स्कूलों में  प्रवेश लेने के लिए आवेदन कर सकता है यह इनकम की सीमा पहले एक लाख थी जिसे अब बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दिया गया है तो जाहिर सी बात है कि निगम की सीमा बढ़ाने से प्रवेश लेने वालों की संख्या में वृद्धि होगी और प्रवेश लेने वालों की संख्या में वृद्धि होने से प्रवेश की प्रक्रिया लॉटरी के द्वारा संपन्न की जाएगी | यानी एक स्कूल में अगर 25% सीट से ज्यादा आवेदन आ जाते हैं तो  तो उनके एडमिशन की लिस्ट लॉटरी के द्वारा निकाली जाएगी | यह लॉटरी कब निकाली जाएगी? और आवेदन कब किए जाएंगे? इन सभी की सूचना जल्दी ही राज्य सरकार द्वारा जारी की जाएगी | विस्तृत जानकारी के लिए सम्पर्क करें ..... डॉ. दौलत राम माल्या संस्थापक अध्यक्ष समर्पण संस्था, जयपुर 9414336431, 9929225353 www.samarpansanstha.com read more...